Dua e Masura हिंदी, English और عربي में तर्जुमे के साथ

Dua e Masura नमाज़ के दरमियान पड़ी जाने वाली दुआ है अगर आपको ये दुआ नहीं आती तो आजकी इस पोस्ट के जरिये आप इसे याद कर सकते है बहुत ही आसान तरीके से दुआ-ए-मासुरा को तीनो भाषाओं में बताया गया है हिंदी English और عربي आप अपनी सहूलियत के हिसाब से पढ़ सकते है।


Dua-e-Masura

💓💓💓बिस्मिल्लाह हिर रहमान निर रहीम💔💓💓

اَللّٰھُمَّ أِنِّیْ ظَلَمْتُ نَفْسِیْ ظُلْمًا کَثِیْرًا وَّلَا یَغْفِرُ الذُّنُوْبَ اِلَّا أَنْتَ فَاغْفِرْلِیْ مَغْفِرَةً مِّنْ عِنْدِكَ وَارْحَمْنِیْ أِنَّكَ أَنْتَ الْغَفُوْرُ الرَّحِیْمَ

अल्लाहुम्मा इन्नी ज़लमतू नफ़्सी ज़ुलमन कसीरा वला यग़फिरुज़ ज़ुनूबा इल्ला अनता फग़फिरली मग़ फि-र-तम्मिन इनदिका वर हमनी इन्नका अनतल ग़फ़ूरूर्र रहीम
----
Allahumma inni zalamtu nafsi Zulman qaseeraaun Wala yaghfiruz zunooba illa anta faghfirlee maghfiratam min Indika warhamnee Innaka antal gafoorur raheem
dua e masura in arabic

dua e masura in english

dua e masura in hindi

दुआ ए मासुरा तर्जुमा

या परवरदिगार हमने अपने आप पर बहुत ज़ुल्म किया और इन गुनाहों को तेरे सिवा कोई माफ नहीं कर सकता है इसलिए इन गुनहाओ को माफ फरमा बेशक तू बड़ा माफ़ करने वाला और रहम करने वाला है अपना रहमोकरम हम पर भी अदा कर।

दुआ ए मासुरा पड़ने के फायदे

दुआ ए मासुरा अल्लाह से अपने गुनाहों की माफी मांगने के लिए है अब इस से बड़ी बात और क्या हो सकती है की खुदा हमारे गुनाहों को माफ़ करदे इसी के साथ इस दुआ के और भी बहुत से बड़े फायदे है।

इस दुआ को पड़ने से घर में बरकत आती है और बिगड़े काम भी बनने लगते है।

इस दुआ को पड़ने से एक अलग की सुकून और ताजगी महसूस होती है।

1 टिप्पणियाँ

पूरी जानकारी पड़ने के लिए Click करे।

और नया पुराने